दक्षिण कन्नड़ जिला  झालरदार तटों, हरे भरे खेतों और करामाती जंगलों की एक चित्रमाला है । इस के पूर्व दिशा में पश्चिमी घाट और पश्चिमी किनारे के साथ गर्जन करता हुआ अरब सागर है । एक महत्वपूर्ण बंदरगाह के साथ, यह तटीय शहर एक प्रमुख व्यापारिक केंद्र भी है जिले की जीवन रेखा ,राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या 17 , लगभग 95 से अधिक किलोमीटर की दूरी तक समुद्र के समानांतर चलता है

मंगलौर भारतीय प्रायद्वीप के दक्षिण पश्चिमी हिस्से में खूबसूरत हरी भूमि के एक लंबे भाग तक विस्तृत है ' मंगलौर ' शब्द का मतलब ’शुभ जगह’ है। ' मंगला ' ( संस्कृत ) का अर्थ खुशी शुभ है ,  औरऊरु का अर्थ है -’प्रदेश’। ' मंगलौर ' शब्द  पुर्तगाली  भाषा के 'मंगलूरु या ’मंगलपुरा’ शब्द  का  बिगडा हुआ रूप है लेकिन यहाँ के  मूल निवासी इस जगह की पहचान ”कुड्ला” /’कोडियाल” अर्थात  ’दो  नदियों  के संगम’  के अर्थ के रूप में करते हैं। ’कूडू’ का मतलब है ’संगम’ और ’अला’ का अर्थ पानी या नदी है । दक्षिण कन्नड़ ज़िले में स्थित जवाहर नवोदय विद्यालय,नवोदय विद्यालय समिति हैदराबाद संभाग के अंतर्गत आता है विद्यालय मंगलूर शहर  से 25 किलोमीटर दूर स्थित है ।